2047 Ka Bharat Essay in Hindi | मेरे सपनो का भारत

मेरे सपनो का भारत और वो ( 2047 Ka Bharat ) २०४७ का भारत कैसा होगा ( 2047 ka bharat kaisa hoga ) जब भी में अपने प्यारे देश भारत के बारे में सोचता हूँ तो सबसे पहला ख्याल मेरे मन में यह आता है की २०४७ के भारत  ( 2047 Ka Bharat )  में आर्थिक व सामाजिक रूप से सशक्त और भ्रष्टाचार से मुक्त होगा भारत में दूर संचार , स्वास्थ के छेत्रो में अद्भुद उन्नति करेगा ऐसा मेरा मन कहता है

जैसा की हम सभी लोग जानते है भारत सभी देशो में महान देश है जहा पर कई तरह की संस्कृति व धर्म और बहोत सी भाषाय बोली जाती है जहा पर सभी जाती धर्म के लोग एक साथ रहते है ऐसा सुन्दर और प्यारा भारत है मेरा

इसे भी पढ़े – Holi Essay in Hindi होली पर निबंध हिंदी में

मेरे सपनो का भारत और वो २०४७ का भारत ( 2047 Ka Bharat ) कैसा होगा

लोगो को अच्छी शिक्षा मिले

२०४७ का भारत ( 2047 Ka Bharat )  ऐसा हो जहाँ कोई भी अशिक्षित न हो किसी भी देश को विकसित बनने के लिए लोगो का शिक्षित होना बहोत जरुरी है भारत के प्रत्येक नागरिक को बिना किसी भेद भाव के शिक्षा मिले चाहे वह लड़का हो या लड़की अगर सभी लोग शिक्षित होंगे तो वह अपने अधिकार व रोजगार से वंचित नहीं होंगे

प्रत्येक व्यक्ति को रोजगार मिले

रोजगार के बिना कोई भी देश को विकसित देश नहीं कहा जा सकता है इसलिए २०४७ का भारत ( 2047 Ka Bharat )  ऐसा हो जहा कोई भी व्यक्ति बेरोजगार न हो प्रत्येक व्यक्ति के पास एक रोजगार हो जिससे उसे अपना व अपने परिवार का पालन पोषण करने में कोई दिक्कत न हो

जाती धर्म के सभी मुद्दे ख़तम हो

जैसा की हम सभी जानते है देश के ज्यादातर राजनेता अपनी सत्ता बनाने के लिए जातिवाद से खिलवाड़ करते है जो की बहुत गलत है राजनेता अपने फायदे के लिए हिन्दू मुश्लिम करके एक दूसरे के बिच नफरत पैदा करते है इसलिए २०४७ का भारत ( 2047 Ka Bharat ) ऐसा हो जहा पर सभी लोग प्यार से रहे और सभी जाती और धर्म के मुद्दे समाप्त हो

भारत से गरीबी दूर हो

जैसा की हम सभी लोग जानते है की गरीबी भारत के लिए एक बहोत बड़ी समस्या है जहा लोगो को रोजगार नहीं मिल रहा और रहने के लिए घर नहीं है न ही पेट भरने के लिए खाना | गरीब दिन पर दिन गरीब हो रहा है और अमीर और भी अमीर होते जा रहे है इसलिए २०४७ का भारत ( 2047 Ka Bharat ) ऐसा होना चाहिए जहा लोगो के पास रोटी कपडा और मकान सब होना चाहिए साथ में एक अच्छी सी नौकरी जिससे वो अपना जीवन खुसी से बिता सके

देश में भ्रष्टाचार न हो

भ्रष्टाचार हमारे देश की बहुत बड़ी और जटिल समस्या है जिसको अगर समय रहते नहीं रोका गया तो यह आने वाली पीढ़ी को बर्बाद कर देगा एक देश विकसित देश तभी बन सकता है जहा पर भ्रष्टाचार न के बराबर हो और इसको ख़तम करने के लिए हमारी सरकार को कठोर कानून बनाने होंगे जिससे लोगो में रिश्वत लेने देने में उस कानून का डर होगा

Leave a Comment

20 − three =